Weather Update: उत्तराखंड के 6 जिलो में भारी बारिश का अलर्ट, अगले 24 घंटे में देहरादून-नैनीताल समेत इन जगहों पर खूब बरसेंगे बदरा

Rain

मानसून ने अब लगभग पूरे देश में दस्तक दे दी है. भारती मौसम विज्ञान (आईएमडी) ने पहाड़ी राज्य उत्तराखंड (Uttarakhand) के 6 जिलो में भारी बारिश का अलर्ट (Heavy Rain Alert) जारी किया है. इन जिलों में अगले पांच दिन खूब बदरा बरसेंगे. अगले 24 घंटों में देहरादून, नैनीताल और बागेश्वर में भारी बारिश की संभावना जताई गई है. साथ ही टिहरी और पौड़ी-गढ़वाल में भी भारी बारिश हो सकती है. पहाड़ पर हो रही लगातार बारिश के चलते इसके जलस्तर में लगातार तेजी आ रही है. पानी का तेज बहाव दहाड़ मारता आगे बढ़ रहा है. भारी बारिश के बाद हरिद्वार में गंगा उफान पर है. यहांगंगा की तेज धारा में डूबकी लगाने आया युवक गंगा की जलतरंगों में फंसकर पानी में डूबने लगा. इसके बाद गंगा के आसपास तैनात रेस्क्यू टीम ने युवक को बचा लिया.

राज्य में भूस्खलन को लेकर चिंताएं बढ़ीं

पिछले एक हफ्ते में, केदारनाथ और अन्य स्थानों में भूस्खलन और बारिश में चट्टानों के खिसकने से कम से कम पांच पर्यटकों की जान गई है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मामले का संज्ञान लेते हुए राज्य की तैयारियों के तहत अधिकारियों को कई निर्देश दिए हैं. संभावित आपदाओं की दृष्टि से अगले तीन माह को महत्वपूर्ण बताते हुए धामी ने जिलाधिकारियों को अपने स्तर पर अधिकतर फैसले लेने को कहा है.

हर साल खासतौर पर मानसून के दौरान उत्तराखंड को प्राकृतिक आपदाओं से जान-माल का भारी नुकसान झेलना पड़ता है. विशेषज्ञों का मानना है कि हिमालय के पर्वत नए होने के कारण बेहद नाजुक हैं, इसलिए ये बाढ़, भूस्खलन और भूकंप के प्रति काफी संवेदनशील हैं, खासतौर पर मॉनसून के दौरान, जब भारी बारिश के चलते इन प्राकृतिक आपदाओं की आशंका बढ़ जाती है.

मासून के मद्देनजर सीएम धामी ने की अधिकारियों के साथ बैठक

मानसून के मद्देनजर मुख्यमंत्री धामी ने अधिकारियों के साथ बैठक की और आपदा प्रबंधन सहित अन्य विभागों को बहुत सतर्क रहने और बेहतर तालमेल के साथ काम करने के निर्देश दिए. सीएम धामी ने कहा किसी भी आपदा की सूरत में कदम उठाने का समय कम से कम होना चाहिए और राहत एवं बचाव कार्य तत्काल शुरू किए जाने चाहिए. मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि बारिश या भूस्खलन के कारण सड़क संपर्क टूटने या बिजली, पानी की आपूर्ति बाधित होने की स्थिति में इन सुविधाओं को जल्द से जल्द बहाल करने के लिए ठोस कदम उठाए जाने चाहिए.

सीएम धामी ने बचाव में इस्तेमाल सभी सामान तैयार रखने को कहा

सीएम धामी ने आपदा के प्रति संवेदनशील जगहों पर राज्य आपदा प्रतिवादन बल की टीम तैनात करने, जेसीबी तैयार रखने, सैटेलाइट फोन चालू अवस्था में रखने और खाद्य सामग्री, दवाओं और अन्य आवश्यक वस्तुओं की पूर्ण व्यवस्था पहले से ही करने का निर्देश दिया.अगले तीन महीनों को आपदा के लिहाज से संवेदनशील बताते हुए धामी ने इनसे उत्पन्न होने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए जिलाधिकारियों से ज्यादातर फैसले अपने स्तर पर लेने और आपदा प्रबंधन के वास्ते दी जा रही धनराशि का आपदा मानकों के हिसाब से अधिकतम उपयोग सुनिश्चित करने को कहा.

(भाषा इनपुट के साथ)

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.