Fact Check: ‘प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना’ के तहत युवाओं को हर महीने मिलेंगे 3400 रुपये, जानें क्या है पूरा सच

Money

वॉट्सऐप, ट्विटर, फेसबुक, यूट्यूब जैसे तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स (Social Media Platforms) अब सिर्फ सोशल प्लेटफॉर्म नहीं बल्कि मौजूदा समय में संचार के सबसे तेज साधन बन चुके हैं. जहां एक तरफ इसके सैकड़ों फायदे हैं वहीं दूसरी ओर इसके कई नुकसान भी हैं. जैसा कि हम सभी जानते हैं कि एक समय में ज्यादा से ज्यादा लोगों तक कोई मैसेज पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया एक बहुत ही तेज और महत्वपूर्ण साधन है. लिहाजा, कई बार सोशल मीडिया के जरिए ही लोगों तक गलत मैसेज भी पहुंचा दिए जाते हैं. इन दिनों सोशल मीडिया के जरिए ठगी के मामलों में काफी तेजी आ रही है.

‘प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना’ के तहत युवाओं को हर महीने मिलेंगे 3400 रुपये?

सोशल मीडिया पर शेयर किए जाने वाले पोस्ट्स कई बार नफरत फैलाने का कारण बनते हैं तो कई बार ये ठगी का कारण भी बन जाते हैं. लिहाजा, हम सभी को सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते समय काफी सतर्क रहना चाहिए. इसी बीच सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप पर एक मैसेज काफी तेजी से वायरल हो रहा है. इस मैसेज में दावा किया जा रहा है कि ‘प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना’ के तहत भारत सरकार सभी युवाओं को हर महीने 3400 रुपये दे रही है.

मैसेज में लिखा है, ”सरकार का बड़ा फैसला, सभी युवाओं को मिलेंगे 3400 हर महीने. मैंने तो 3400 रुपये प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना से प्राप्त कर लिए, आप भी रजिस्ट्रेशन करें. प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना के लिए रजिस्ट्रेशन हो रहा है, इस योजना के अंतर्गत सभी युवाओं को 3400 रुपये की मदद राशि मिलेगी. नीचे दिए गए लिंक से अभी रजिस्ट्रेशन करें- https://re………….”

पूरी तरह से फर्जी है ‘प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना’

वॉट्सऐप पर ये मैसेज काफी तेजी से वायरल हुआ, जिसके बाद PIB Fact Check ने खुद इसका संज्ञान लिया और इस योजना के तहत मिलने वाली राशि को लेकर सच बताया. PIB Fact Check ने बताया कि वायरल मैसेज में ‘प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना’ के तहत युवाओं को हर महीने 3400 रुपये देने की बात पूरी तरह से फर्जी है. इसके साथ ही PIB Fact Check ने लोगों से अपील की है कि इस तरह की किसी भी वेबसाइट या लिंक पर अपनी निजी जानकारी साझा न करें.

लिंक पर क्लिक किया तो खाली हो सकता है बैंक अकाउंट

बता दें कि आज कल सोशल मीडिया के इस दौरान में साइबर अपराधी लोगों को फर्जी योजना के बारे में बताकर एक फ्रॉड लिंक पर उनके बैंक खाते से जुड़ी जरूरी जानकारी इकट्ठा कर लेते हैं और फिर उनका बैंक अकाउंट खाली कर देते हैं. PIB Fact Check ने अपील है कि इस तरह के मैसेज को फॉरवर्ड करने से पहले एक बार उसका Fact Check जरूर कर लें.

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.