Elon Musk Twitter Deal: एलन मस्क ने ट्विटर को दिया झटका, 44 बिलियन डॉलर की डील चुटकियों में कैंसिल, कंपनी करेगी मुकदमा

Elon Musk W

दुनिया के सबसे अमीर शख्स और टेस्ला-स्पेसएक्स के मालिक एलन मस्क (Elon Musk Twitter Deal) ने ऐलान किया है कि वह ट्विटर डील रद्द कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह इस सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म को खरीदने के लिए 44 बिलियन डॉलर के अपने ऑफर को वापस ले रहे हैं. इसकी वजह में बताया गया है कि कंपनी फर्जी अकाउंट्स की संख्या में बारे में पर्याप्त जानकारी देने में विफल रही है. वहीं ट्विटर का कहना है कि वह इस डील को बनाए रखा चाहता है और इसके लिए एलन मस्क पर मुकदमा करेगा. इस डील को लेकर बीते कुछ महीनों न केवल तकनीक बल्कि पूरी दुनिया में खूब चर्चा हो रही थी.

एलन मस्क के डील से पीछे हटने के अलग-अलग कयास लगाए जा रहे थे. अब ट्विटर का कहना है कि वह दुनिया के इस सबसे अमीर शख्स को अदालत तक लेकर जाएगा. ट्विटर के अध्यक्ष ब्रेट टेलर ने एलन मस्क के डील छोड़ने की घोषणा के बाद कहा, ‘ट्विटर बोर्ड मस्क के साथ जिन शर्तों पर सहमति बनी, उन्हें और दाम के ट्रांजेक्शन को बंद करने के लिए प्रतिबद्ध है. और वह डील को लागू करने के लिए कानूनी कार्रवाई करने की योजना बना रहा है. हमें विश्वास है कि हम चांसरी के डेलावेयर कोर्ट में जीत हासिल करेंगे.’

14 अप्रैल खरीदने का ऑफर दिया

बता दें मस्क ने 14 अप्रैल को ट्विटर को 54.20 डॉलर प्रति शेयर की कीमत पर खरीदने की पेशकश की थी. हालांकि, फिर मस्क ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने ट्विटर के अधिग्रहण की योजना अस्थाई रूप से टाल दी है, क्योंकि वह साइट पर मौजूद फर्जी अकाउंट की संख्या आंकने की कोशिशों में जुटे हैं. बीते महीने कहा गया कि एलन मस्क ने संकेत दिए हैं कि वह माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के अधिग्रहण के लिए 44 अरब डॉलर से कम राशि का भुगतान करना चाहेंगे.

ब्लूमबर्ग न्यूज की एक खबर के मुताबिक, मियामी में आयोजित एक टेक सम्मेलन में मस्क ने कहा था कि ट्विटर के अधिग्रहण के संबंध में एक कम कीमत वाला व्यवहार्य समझौता संभव है. वेबसाइट ने एक ट्विटर यूजर द्वारा प्रसारित सम्मेलन के लाइव वीडियो के आधार पर यह रिपोर्ट प्रकाशित की थी. रिपोर्ट के अनुसार, ऑल इन समिट में मस्क ने अनुमान जताया कि ट्विटर पर मौजूद 22.9 करोड़ अकाउंट में से कम से कम 20 फीसदी अकाउंट स्पैम बोट द्वारा संचालित किए जा रहे हैं. स्पैम बोट इंटरनेट पर मौजूद उन स्वचालित सॉफ्टवेयर को कहते हैं, जो उपयोगकर्ताओं को बड़ी संख्या में स्पैम संदेश भेजते हैं या फिर ऑनलाइन मंचों पर बड़ी तादाद में स्पैम संदेश पोस्ट करते हैं. स्पैम संदेश का स्रोत इन्हें प्राप्त करने वाले लोगों को भी मालूम नहीं होता है.

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.