श्रीलंका में प्रमुख दरें बढ़कर 14 प्रतिशत के पार, केंद्रीय बैंक को आशंका, 70 प्रतिशत तक पहुंच सकती है महंगाई दर

Sri Lanka's central bank raises key rates

बढ़ती महंगाई और गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका (Sri Lanka) ने अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए जरूरी सभी कदमों को तेज कर दिया है. आज श्रीलंका के केंद्रीय बैंक ने महंगाई दर (Inflation) को नियंत्रित करने के लिए प्रमुख दरों में बढ़ोतरी का ऐलान किया. दरअसल देश में महंगाई दर 50 प्रतिशत के पार पहुंच चुकी है. इसकी वजह से केंद्रीय बैंक ने दरें बढ़ाने का ऐलान किया है. दरों के ऐलान के साथ ही केंद्रीय बैंक ने आशंका जताई कि महंगाई में आगे और उछाल देखने को मिल सकता है. इससे पहले सरकार ने ईंधन (Fuel) की खपत पर नियंत्रण को लेकर प्रतिबंध लगाए थे. वहीं देश में लोगों के पास विदेशी मुद्रा की सीमा भी घटाई जा चुकी है. हाल ही में भारतीय रिजर्व बैंक से एक टीम भी आर्थिक स्थिति का आंकलन करने श्रीलंका पहुंची थी.

कितनी हुई प्रमुख दरें

श्रीलंका के केंद्रीय बैंक ने महंगाई दर पर अंकुश के लिए महत्वपूर्ण नीतिगत दरों को बढ़ाकर 14.50 प्रतिशत और 15.50 प्रतिशत कर दिया है. केंद्रीय बैंक के गवर्नर नंदलाल वीरासिंघे ने कहा कि वाणिज्य बैंकों से लिए जाने वाली स्थानीय जमा सुविधा दर और स्थायी ऋण सुविधा दर को एक-एक प्रतिशत बढ़ाकर क्रमश 14.50 और 15.50 प्रतिशत कर दिया गया है. जरूरी वस्तुओं की कीमतों में आए हालिया उछाल से श्रीलंका के गरीबों की समस्याएं काफी बढ़ गई हैं. उन्हें खाने-पीने के सामान, ईंधन, रसोई गैस और दवाइयों जैसी जरूरी चीजों की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है.

महंगाई दर 70 प्रतिशत होने का अनुमान

फ्यूल और खाद्य पदार्थों की किल्लत और बिगड़ती आर्थिक स्थिति की वजह से केंद्रीय बैंक ने आशंका जताई है कि देश की महंगाई दर में आगे और उछाल देखने को मिल सकता है. गवर्नर वीरासिंघ ने महंगाई दर के 70 प्रतिशत तक पहुंच जाने की आशंका जताते हुए कहा कि हमारी प्राथमिकता मुद्रास्फीति को जल्द से जल्द एक वाजिब स्तर तक लाने की है. जितना जल्दी ऐसा हो, उतना ही अच्छा है. जून में श्रीलंका की मुद्रास्फीति 55 प्रतिशत के करीब पहुंच चुकी है

गंभीर आर्थिक संकट में श्रीलंका

श्रीलंका फिलहाल गंभीर आर्थिक संकट में फंसा हुआ है. देश की महंगाई दर ने लगातार 9वें महीने रिकॉर्ड स्तर छुआ है. जून के महीने में महंगाई दर 54.6 प्रतिशत रही है. वहीं ये पहला महीना रहा है जब महंगाई दर 50 प्रतिशत के पार पहुंची है. वहीं श्रीलंकाई रुपया इस साल अब तक डॉलर के मुकाबले अपनी आधी कीमत गंवा चुका है. वहीं दुनिया भर के कुछ संस्थान मान रहे हैं कि श्रीलंका का महंगाई दर आधिकारिक आंकड़ों के मुकाबले कहीं ज्यादा है. जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के एक अर्थशास्त्री का मानना है कि श्रीलंका की महंगाई दर वास्तव में 128 प्रतिशत है और देश दुनिया भर में ऊंची महंगाई दर वाले देशों में दूसरे स्थान पर है. फिलहाल जिम्बाब्वे में महंगाई दर 300 प्रतिशत से ज्यादा है.

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.