न्यायापालिका पर हो रहे ‘हमलों’ को लेकर आक्रमक हुई कांग्रेस, सुरजेवाला ने सीजेआई और सुप्रीम कोर्ट से की कार्रवाई की मांग

Supreme Court Justice Slams Nupur Sharma

देश के अंदर मौजूदा समय में न्यायपालिका और न्यायधीशों पर हो रहे ‘हमलों’ को लेकर कांग्रेस (Congress) आक्रमक मूड में है. इस संबंध में कांग्रेस के नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala, )ने कर्नाटक के जस्टिस के आरोपों वाले राहुल गांधी के ट्वीट को मंगलवार को रिट्वीट किया है. इसमें सुरजेवाला ने कहा है कि यह भारत में न्यायपालिका की स्वतंत्रता के लिए एक अग्निपरीक्षा है. कांग्रेस नेता ने आगे कहा है किनूपुर शर्मा मामले में सुप्रीम कोर्ट के जजों को बीजेपी ट्रोल कर रही है.अब हाईकोर्ट के जज को कर्नाटक में भ्रष्टाचारियों ने इतनी बेशर्मी से धमकाया है.कानून और संविधान के शासन में किसका विश्वास होगा.माननीय CJI और SC को कार्रवाई करनी चाहिए.

कर्नाटक हाईकोर्ट के जस्टिस ने यह आरोप लगाए थे

कर्नाटक हाइकोर्ट के जस्टिस एचपी संदेश ने सोमवार को सनसनीखेज आरोप लगाया थे. उन्होंने खुली अदालत में कहा था कि कर्नाटक एंटी करप्शन ब्यूरो के टॉप अधिकारी को फटकार लगाने के मामले में उन्हें ट्रांसफर की धमकी मिली थी. उन्होंने कहा है कि हाईकोर्ट के मौजूदा जज ने उन्हें चेतावनी दी है कि उनका तबादला किया जा सकता है क्योंकि उन्होंने एसीबी के एडीजीपी को फटकार लगाई है और एसीबी के खिलाफ टिप्पणी की है. वहीं, जस्टिस संदेश ने कहा कि वह लोगों की भलाई के लिए ट्रांसफर होने के लिए तैयार हैं. हालांकि इसके बाद पुलिस ने एंटी करप्शन ब्यूरो के टॉप अधिकारी को उनके आवास से हिरासत में लिया था.

नूपुर शर्मा को फटकार लगाने वाले जस्टिस भी जता चुके हैं नाराजगी

पैंगबर मोहम्मद पर टिप्पणी करने वाली बीजेपी से निष्कासित की गई नूपुर शर्मा को बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट के दो जस्टिस ने फटकार लगाई थी. इसके बाद अदालत के इस संबंध के फैसले पर सोशल मीडिया में मीम बनने लगे थे, जो ट्रेंड हाे रहे थे. इसको लेकर नूपुर शर्मा को फटकार लगाने वाले दो जस्टिसों में शामिल न्यायमूर्ति पारदीवाला ने अपनी नाराजगी जताई थी. एक वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए न्यायमूर्ति पारदीवाला ने कहा था कि जस्टिसों पर व्यक्तिगत हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे. साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स की खिंचाई करते हुए उन्हें इस मामले का दोषी बताया था. इसके साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया के नियंत्रण के लिए सख्त नियम लागू करने की मांग की थी.

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.