दलित युवती हत्याकांड: सपा नेता के बेटे का 56 लाख का मकान और प्लॉट कुर्क, एक हफ्ते पहले 3 करोड़ 18 लाख रुपए की संपत्ति हुई थी जब्त

Unnao Police

उत्तर प्रदेश की उन्नाव पुलिस (Unnao Police) लगातार गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है. ऐसे में सपा सरकार (Samajwadi Party) में मंत्री रहे स्व. फतेह बहादुर सिंह के बेटे की 57 लाख संपत्ति को पुलिस ने कुर्क कर दिया है. इससे पहले पुलिस ने डुगडुगी बजवा कर मुनादी करवाई, फिर प्लाट और घर को सील कर दिया गया. इस कार्रवाई के दौरान पुलिस के साथ और राजस्व विभाग की टीम भी मौजूद रही. पुलिस के अनुसार गैंगेस्टर राजोल सिंह ने अवैध तरीके से गरीब लोगों की जमीन पर कब्जा कर संपत्ति बनाई थी.

दरअसल कुछ दिनों पहले पूर्व मंत्री स्व. फतेह बहादुर के बेटे राजोल सिंह पर दलित युवती की हत्या कर उसे दिव्यानंद आश्रम में गाड़ने का आरोप लगा था. पुलिस ने शव को 10 फरवरी को बरामद किया था. इसके बाद से लगातार कार्रवाई कर रही है. दलित हत्याकांड के मुख्य आरोपी राजोल सिंह की संपत्ति पर पुलिस ने 14 (1) के तहत कार्रवाई की है.

तीन करोड़ 18 लाख रुपए से अधिक की संपत्ति जब्त

वहीं इससे पहले आरोपी राजोल सिंह की तीन करोड़ 18 लाख रुपए से अधिक की संपत्ति एक सप्ताह पहले डीएम के आदेश पर जब्त की गई थी. वहीं शुक्रवार को प्रशासन ने फिर 57 लाख रुपये की संपत्ति की मुनादी कराकर तीन अलग-अलग स्थानों पर मकान और प्लाट को कुर्क कर दिया है. नायब तहसीलदार मंजुला मिश्रा, कोतवाली इंस्पेक्टर अपराध अवधेश यादव सहित प्रशासनिक अमला भारी पुलिस बल के साथ कल्याणी देवी मोहल्ले में स्तिथ माफिया राजोल सिंह उर्फ अरुण कुमार सिंह पुत्र के मकान पर पहुंचा था.

जेल में बंद दलित युवती हत्याकांड के सभी आरोपी

इस दौरान साथ में मौजूद एक विभागीय कर्मी ने सुनो-सुनो माफिया राजोल सिंह का यह प्लाट सीज किया जा रहा है, यह मुनादी ढोल नगाड़े के साथ पिटवाई. दलित युवती हत्याकांड के मामले में आरोपित सहित उसके भाई अशोक सिंह समेत अन्य आरोपी अभी भी जेल में बंद हैं.

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.