आत्मनिर्भर बनने की राह पर भारत! चीन से आने वाले सामान में गिरावट

india import to china fells in FY22 from previous year

देश के कुल आयात (Import) में चीन (China) की हिस्सेदारी 2020-21 में 16.5 फीसदी से गिरकर 2021-22 में 15.4 फीसदी पर पहुंच गई है. पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में चीन से आयात होने वाली मुख्य चीजों को टेलीकॉम (Telecom) और ऊर्जा (Power) जैसे क्षेत्रों में मांग को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. कुछ उदाहरण देते हुए, रिपोर्ट में कहा गया है कि आयात जैसे एक्टिव फार्मास्युटिकल इंग्रिडिएंट्स (APIs) और ड्रग फॉर्म्यूलेशन के इस्तेमाल से भारतीय फार्मा इंडस्ट्री को कच्चा माल मिलता है.

चीन का निर्यात बढ़ा

इंफोर्मेशन और कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स और मेडिकल उपकरणों के आयात में बढ़ोतरी के पीछे वजह कोविड-19 के दौरान इन प्रोडक्ट्स की डिमांड में बढ़ोतरी को माना जा सकता है.

इसके अलावा वैश्विक तौर पर कमोडिटी की बढ़ती कीमतों ने भी आयात की वैल्यू बढ़ाने में बड़ी भूमिका निभाई है. चीन को निर्यात पिछले वित्त वर्ष में बढ़कर 21.25 अरब डॉलर पर पहुंच गया है. यह वित्त वर्ष 2020-21 में 21.18 अरब डॉलर रहा था. जबकि, आयात बढ़कर 94.16 अरब डॉलर हो गया है, जो 2020-21 में करीब 65.21 अरब डॉलर पर मौजूद था.

भारत का चीन को निर्यात 2021-22 में 21.2 अरब डॉलर रहा है, जो अमेरिका और यूएई के बाद तीसरा सबसे ज्यादा है. पड़ोसी देशों को निर्यात 2021-22 में 11.9 अरब डॉलर पर रहा है.

चीन से मोबाइल फोन का निर्यात घटा

इसके अलावा रिपोर्ट में बताया गया है कि चीन से मोबाइल फोन्स का निर्यात 55 फीसदी गिरकर 2021-22 में 626 अरब डॉलर पर पहुंच गया है, जो 2020-21 में 1.4 अरब डॉलर पर मौजूद था. रिपोर्ट में कहा गया है कि आयातित प्रोडक्ट्स की गुणवत्ता को बनाए रखने के लिए कुछ प्रोडक्ट्स के लिए तकनीकी रेगुलेशन्स बनाए गए हैं. यह किसी देश के सब-स्टैंडर्ड प्रोडक्ट्स के आयात को चेक करता है. इसमें चीन से आयात भी शामिल है.

आपको बता दें कि जून में देश का आयात 51 फीसदी बढ़ गया है. जून 2021 की तुलना में बीते महीने देश ने 63.58 अरब डॉलर का आयात किया. इसके साथ जून 2022 में देश का व्यापार घाटा 25.63 अरब डॉलर हो गया है. पिछले साल जून महीने में व्यापार घाटा 9.61 अरब डॉलर रहा था. चालू वित्त वर्ष के पहले तीन महीनों यानी अप्रैल-जून तिमाही में देश का निर्यात 22.22 फीसदी बढ़कर 116.77 अरब डॉलर पर पहुंच गया. इसी अवधि में आयात 47.31 फीसदी बढ़कर 187.02 अरब डॉलर हो गया.

Admission.com
www.lyricsmoment.com
admission9.com
lyricsmoment.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.